Header Ads Widget

Ticker

6/recent/ticker-posts

नकारात्मक विचार क्या है



 नकारात्मक विचार क्या है, नकारात्मक विचार वह है जब हम किसी के बारे में या अपनी जिंदगी के बारे में गलत सोचते रहते हैं, नकारात्मक विचार हमारे मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत ज्यादा हानिकारक हो सकते हैं | इस तरह के विचार हमारे लिए उदासी, क्रोध और चिंता की तीव्र भावनाओं का कारण बन सकते हैं |  इन विचारों को नियंत्रित करना बहुत मुश्किल है, नकारात्मक विचार हमारे जीवन का हिस्सा है और हर इंसान को उन्हें समय-समय पर इसका अनुभव होता है | नकारात्मक विचारों को ज्यादा बढ़ने से रोकने के लिए हम कुछ महत्वपूर्ण कदम उठा सकते हैं |

नकारात्मक विचार मन में एक शक्तिशाली शक्ति की तरह काम करते हैं, अगर उन्हें समय रहते रोका ना जाए, तो यह हमें अंदर से बाहर तक नष्ट करने की ताकत रखते हैं | मानसिक स्वास्थ्य प्राप्त करने और नकारात्मक विचारों को दूर करने के लिए, पहले हमें यह स्वीकार करना चाहिए कि हम इन विचारों से लड़ सकते हैं | हर इंसान में इस तरह के विचारों से लड़ने की ताकत होती हैं | हमें सोच समझकर उस ताकत का इस्तेमाल करना चाहिए और अपने अंदर नकारात्मकता नहीं आने देनी चाहिए |

नकारात्मक सोच की वजह से बहुत बार लोगों को मानसिक बीमारी तक हो सकती हैं | इस तरह की विचारों की वजह से हमें चिंता, अवसाद और कई अन्य तरह की बीमारियों का सामना तक करना पड़ सकता है जो हमारे आतम-नुकसान या आत्महत्या का कारण बन सकती हैं | नकारात्मक सोच को पहचाना हमेशा आसान नहीं होता है, इसे अक्सर अन्य नकारात्मक विचारों और भावनाओं के साथ जोड़ा जाता है | नकारात्मक सोच को सकारात्मक सोच से ही दूर किया जा सकता है, और हमें नकारात्मक विचारों को पहचान करके उससे दूर रहने की कोशिश करनी चाहिए |

आधुनिक दुनिया में, ऐसा लगता है कि सोशल मीडिया सबसे बड़े उपकरणों में से एक है जिसका उपयोग किसी भी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए किया जा सकता है | अध्ययन से पता चला है कि सोशल मीडिया का मानसिक स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है, खासकर किशोरों और युवकों के लिए जो पहले से ही आत्मसम्मान के मुद्दे से जूझ रहे होते हैं |

परमात्मा ने हमारे अंदर एक विवेक की ताकत दी हुई है अगर हम उसका इस्तेमाल करते हैं तो नकारात्मक विचारों को रोकना सीख सकते हैं | इसमें समय तो लगता है लेकिन अभ्यास के साथ, हम नकारात्मक विचारों को सकारात्मक विचारों में बदल सकते हैं | अगर हम सकारात्मकता रखकर जीवन में आगे बढ़ेंगे तो यकीनन एक दिन कामयाबी की ऊंचाई पर पहुंचेंगे |

नकारात्मक विचार जीवन का एक सामान्य हिस्सा है | और तकरीबन  हर इंसान के अंदर इस तरह के विचार होते हैं | पर हम लोगों को सीखने की जरूरत है कि नकारात्मक विचारों से हमें कैसे निपटना है | नकारात्मक विचार हमें अपने बारे में, अपने रिश्तो के बारे में और सामान्य रूप में हम अपने जीवन के बारे में बुरा महसूस कर सकते हैं | लेकिन हमने नकारात्मक विचारों को अपने जीवन पर कभी हावी नहीं होने देना चाहिए, नकारात्मक विचारों को रोकने के बहुत सारे तरीके हैं |

हमारी पहली कोशिश यही होनी चाहिए की नकारात्मक सोचना बंद करें | यह कुछ ऐसा है जिसमें हमें बहुत संघर्ष करना पड़ता है, जिनमें मैं खुद भी शामिल हूं | नकारात्मक विचारों को दूर रखना कठिन है, विशेष रूप में तनाव के समय में या जब चीजें हमारे अनुकूल नहीं होती है | फिर भी, संभव हो तो सकारात्मक पर ध्यान केंद्रित करने का प्रयास करना महत्वपूर्ण है | नकारात्मक विचार विकृत सोच का परिणाम होते हैं, और वे हमें चीजों को वैसे ही देखने से देखते हैं जैसे यह वास्तव में हैं | वे कई बार बहुत ज्यादा खतरनाक भी हो सकते हैं, क्योंकि कई बार यह हमारे जीवन को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकते हैं |

नकारात्मक विचार हमें हमेशा कमजोर बनाते हैं | और सबसे मुश्किल बात यह है कि इनको पहचाना भी बहुत मुश्किल है फिर भी हमारी कोशिश यही होनी चाहिए के विचारों को पहचान कर अपने अंदर से बाहर निकाल ले| जिस दिन हमने यह करना सीख लिया उस दिन हमें अपने अंदर एक अलग ही तरह की एनर्जी महसूस होगी |

चलो दोस्तों अपने अंदर नकारात्मक विचारों को निकालते हैं, और अपने जीवन के अंदर सकारात्मकता लाते हैं | क्योंकि सकारात्मकता ही हमारे जीवन का सार है |

अगर आपको मेरा ये लेख पसन्द आया हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ Whats app, Facebook आदि पर शेयर जरूर करिएगा। आप अपनी प्रतिक्रिया हमें कमेंट करके भी बता सकते हैं |

 आपके प्यार व सहयोग के लिए आपका बहुत-2 धन्यवाद।*

Post a Comment

0 Comments